MP Election 2023 : एमपी में कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व विधायक अभय सिंह ने किया पत्नी समेत भाजपा में घर वापसी।

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव कि तारीख जैसे जैसे नजदीक आ रही है नेताओ का एक पार्टी से दूसरी पार्टी को जॉइन करने का सिलसिला भी तेज हो गया है इसी क्रम में कांग्रेस को रीवा जिला से एक बाद झटका हाथ लगा है

MP Election 2023 :  एमपी में कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व विधायक अभय सिंह ने किया पत्नी समेत भाजपा में घर वापसी।
MP Election 2023 :  एमपी में कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व विधायक अभय सिंह ने किया पत्नी समेत भाजपा में घर वापसी।

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव कि तारीख जैसे जैसे नजदीक आ रही है नेताओ का एक पार्टी से दूसरी पार्टी को जॉइन करने का सिलसिला भी तेज हो गया है इसी क्रम में कांग्रेस को रीवा जिला से एक बाद झटका हाथ लगा है क्योंकि शुक्रवार को रीवा जिला के सेमरिया विधानसभा से विधायक रहे अभय मिश्रा और उनकी पत्नी नीलम मिश्रा ने कांग्रेस का दमन छोड़ एक बार फिर भाजपा का दमन थाम लिया है। बता दे अभय मिश्रा और उनकी पत्नी दोनों सेमरिया सीट से विधायक रह चुके है दोनों को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा एवं प्रदेश गृहमंत्री नरोतम मिश्रा ने पार्टी की सदस्यता दिलाई है। 

कांग्रेस में पार्टी भीतरीघात का कल्चर- अभय मिश्रा

अभय मिश्रा ने कहा कि 2018 में भूलवश वह भाजपा पार्टी को छोड़ कांग्रेस पार्टी में चले गए थे। और  परंपरागत सीट सेमरिया सीट छोड़ रीवा से विधानसभा का चुनाव लड़ा लेकिन वह से हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस में पार्टी भीतरीघात का कल्चर है कांग्रेस का मतलब सिर्फ सत्ता हासिल करना है उनको सेवा से दूर-दूर तक कोई मतलब नहीं है 

भाजपा में टिकट के लिए नहीं आया

अभय मिश्रा ने आगे कहा कि मैं भाजपा में टिकट के लिए नहीं आया हूं। मुझे कांग्रेस कि तरह से इशारा मिल गया है कि मुझे सिमरिया सीट से टिकट दिया जाएगा। मैं यह जानते हुए कि मुझे कांग्रेस पार्टी ने सिमरिया सीट विधानसभा से टिकट दे दी है, लेकिन फिर भी मन की शांति नहीं है। क्योंकि मैं जानता हूं कि मैं सिमरिया के लोगों का भला नहीं कर पाऊंगा। आज तक सिमरिया को जो भी मिला है, वह प्रदेश में शिवराज सरकार कि सरकार से  ही मिला है।साथ ही उन्होंने कहा कि यदि भाजपा टिकट देंगी तो वह चुनाव जरूर लड़ेंगे । 

दोनों पति- पत्नी रह चुके है सेमारिया सीट से विधायक 

बता दे अभय मिश्रा ने 2008 में भाजपा के टिकट से सेमरिया विधानसभा चुनाव लड़े थे जिसमें में उन्हे जीत हासिल हुई और वो विधायक बने थे एवं उनकी पत्नी नीलम भी  2013 में भाजपा के टिकट से चुनाव लड़ी थी और विधायक बनी थी । अभय मिश्रा के भाजपा जॉइन करने पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष  वीडी शर्मा ने कहा कि भाजपा में जोड़ने का काम जारी है। दागदारों से पार्टी दूरी बनाएगी।